Category Archives: आयुर्वेद टेबलेट / कैप्सूल

वृहनी गुटिका के फायदे व नुकसान (VRIHANI GUTIKA in hindi)

वृहनी गुटिका के फायदे

वृहनी गुटिका Vrihani Gutika in hindi आयुर्वेद के वाजीकरण अध्याय में सबसे शक्तिशाली वाजीकरण रसायन वृहनी गुटिका को माना गया है | वाजीकरण रसायन अर्थात विशेष श्रेणी के रसायन जो न केवल शरीर को ही सुद्रढ़ बनाते है अपितु कामशक्ति व प्रजनन क्षमता में भी बेहतर सुधार करते है | यह प्राचीन ऋषि मुनियों द्वारा […]

महास्तंभन वटी के फायदे सेवन विधि Mahastambhan Vati in hindi

महास्तम्भन वटी के फायदे

महास्तंभन वटी (mahastambhan vati in hindi ) यह शास्रोक्त आयुर्वेद औषधी है जिसका निर्माण स्तम्भन दोष को दूर करने के लिए किया जाता है | महास्तंभन वटी को स्तम्भन शक्ति बढ़ाने वाली औषधि के रूप में जाना जाता है | यह आयुर्वेद की महाऔषधि के रूप में भी वैध लोगो में प्रचलित है | वर्तमान […]

प्लेटलेट्स बढ़ाने की टेबलेट आयुर्वेदिक दवा पतंजली | प्लेटलेट्स बढ़ाने के घरेलू उपाय

प्लेटलेट्स बढ़ाने की टेबलेट आयुर्वेद दवा

इन दिनों डेंगू और टायफस का प्रकोप बहुतायत से फैला हुआ है ऐसे में सबसे अधिक जरुरी है अपने आहार और विहार को स्वस्थ बनाकर रखा जाये | डेंगू के साथ टायफस का होना अधिक हानिकारक साबित हो रहा है ऐसे में आज हम इस आर्टिकल में चर्चा करेंगे प्लेटलेट्स बढ़ाने की टेबलेट आयुर्वेदिक दवा […]

यदि आप का सिटींग वर्क है तो रहे सावधान क्यूंकि आपको हो सकता है – एन्किलोजिंग स्पोंडीलाइटिस (Ankylosing Sppondylitis in hindi)

Ankylosing Sppondylitis in hindi

क्या है एन्किलोजिंग स्पोंडीलाइटिस (Ankylosing Sppondylitis in hindi) इस रोग का आक्रामक रूप 20 वर्ष से 45 वर्ष तक की आयु में अधिकतर देखा जाता है | एन्किलोजिंग स्पोंडीलाइटिस अक्सर महिलाओ को कम होता है | साथ ही पुरुषो को एन्कि लोजिंग स्पोंडी लाइटिस अधिक होता है | एन्किलोजिंग स्पोंडीलाइटिस को बध्दकशेरुका संधिशोथ के नाम […]

स्लिप डिस्क का आयुर्वेदिक रामबाण इलाज

स्लिप डिस्क का आयुर्वेदिक ट्रीटमेंट

स्लिप डिस्क क्या है ? (what is slip disc) वास्तव में यदि देखा जाये तो स्लिप डिस्क कोई स्वतंत्र रोग नही होता है | बल्कि शरीर रचना तन्त्र में उत्पन्न हुई तकनीकी खराबी होती है | वास्तविकता से देखा जाये तो डिस्क कभी भी स्लिप नही होती है बल्कि स्पाइनल कॉर्ड से न्यूक्लियस पल्पोसस नामक […]

कोविड -19 इलाज में आयुष-64 कैप्सूल के फायदे

आयुष 64 Ayush 64

कोरोना के इलाज में सीसीआरएस द्वारा परीक्षित की गयी आयुर्वेद दवा जिसका परिणाम काफी उत्साहित करने वाला रहा है | आयुष-64 कैप्सूल का आयुष मंत्रालय , वैज्ञानिक एवं अनुसन्धान परिषद् और नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ आयुर्वेद जयपुर ने इस दवा की प्रभावकारिता और इसके सुरक्षित मूल्यांकन के लिए बहु केन्द्रीय नैदानिक परीक्षण यानि की क्लीनिकल ट्रायल […]

बृहत कस्तूरी भैरव रस के फायदे सेवन विधि और नुकसान

बृहत कस्तूरी भैरव रस के फायदे

परिचय कस्तूरी भैरव रस क्या होता है ? कस्तूरी भैरव रस का प्रयोग मुखत: ज्वर की पुनरावृति होने पर किया जाता है अर्थात जब रोगी व्यक्ति को बुखार अन्तराल के बाद आता हो जैसे 2 दिन के बाद 5 दिन के बाद 10 दिन के बाद ऐसे रोगी के लिए एक श्रेष्ठ औषधि का काम […]

हीरक भस्म के फायदे और नुकसान

हीरक भस्म के फायदे

हीरक भस्म का कैंसर रोग में प्रयोग वज्र भस्म को हीरक भस्म या हीरा भस्म भी कहते हैं यह रस शास्त्र में वर्णित एक अति उत्तम आयुर्वेदिक औषधि है जिसका प्रयोग स्वर्ण भस्म के साथ करने पर कैंसर पक्षाघात (लकवा) के नर्वस सिस्टम से संबंधित रोगों का इलाज किया जाता है | इसके साथ ही […]

समीर पन्नग रस के फायदे, सेवन विधि और मात्रा

समीर पन्नग रस के फायदे

परिचय – समीर पन्नग रस क्या होता है ? sameer pannag ras in hindi समीर पन्नग रस श्वास वाहिनियो और फुफ्फुस कोषों के भीतर श्लेष्मिक कला पर सुजन न लाकर कफ का स्त्राव कराता है जिससे दोष निकल जाने पर फुफ्फुस व श्वासवाहिनियो को मजबूत बनाए में सहायक सिद्ध होता है | sameer pannag ras […]

फेफड़ो को मजबूत बनाने में श्वास कास चिंतामणि रस के फायदे

श्वास कास चिंतामणि रस के फायदे

क्या होता है श्वासकास चिंतामणि रस ? आयुर्वेद ग्रन्थ भैषज्य रत्नावली के हिक्का कास प्रकरण में श्वाश्वासकास चिंतामणि रस का विस्तार से वर्ण किया है जिसमे आचार्यो ने बताया है की इसके सेवन से फेफड़ो में इकट्ठे हुए कफ को खत्म करके श्वास व दमा से होने वाले कष्टों से मनुष्य की रक्षा करता है […]