icon

Getting all of the Ayurveda Knowledge from our Ayurvedic blog.

We are 5 year old website in Ayurveda sector. Providing you regular new article on Ayurveda. You can get Herbs, Medicine, Yoga, Panchkarma details here.

+91 9887282692

A 25 Flat 4, Shantinagar, Durgapura, Jaipur Pin code - 342018

स्वस्थ रहने के 10 सरल उपाय

स्वस्थ रहने के 10 सरल उपाय हैं ये टिप्स | Good indigenous Tips for Better Health

स्वस्थ रहने के 10 सरल उपाय: स्वास्थ्य हमारे जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है, और हम सभी चाहते हैं कि हम स्वस्थ रहें ताकि हम अपने जीवन को पूरी तरह से सुखमय जी सकें। अब आजकल की भागदौड़ भारी जिंदगी में थकना मना है का नारा तो दिया जाता है, लेकिन क्या हो अगर शरीर बीमार पड़ जाये या ऐसा हो की आपको भागदौड़ करने में शरीर साथ ना दे । इन परिस्थितयों का सामना कोई एक स्वस्थ व्यक्ति कभी भी कर सकता है । क्योंकि खान – पान और रहन सहन बहुत ही अव्यवस्थित हो चूका है कि आप बीमार पड़ने से बच नहीं सकते ।

स्वस्थ रहने के 10 सरल उपाय

इसलिए आज के इस आर्टिकल में हम आपके लिए लेकर आये हमेशां स्वस्थ रहने के बहुत ही आसान 10 सरल उपाय जिनको अपनाकर आप आसानी से पूर्णत: स्वस्थ रह सकते हैं । लेकिन उससे पहले जान लेते हैं कि स्वास्थ्य की परिभाषा क्या है

स्वस्थ होना क्या होता है ?

स्वस्थ का अगर साधारण शब्दों में समझें तो एक ऐसा व्यक्ति जो सभी प्रकार के रोगों से दूर है और अपने दैनिक कार्यों को करने में पूर्णत: समर्थ है । वह सामाजिक, मानसिक और शारीरिक रूप से स्वास्थ्य से भरपूर है । इसे दुसरे शब्दों में कहें तो

स्वस्थ होना शारीरिक, मानसिक और सामाजिक रूप से अच्छे स्वास्थ्य की स्थिति का सूचक होता है। यह अच्छा स्वास्थ्य विशेष रूप से निम्नलिखित प्रमुख पहलुओं पर निर्भर करता है

  1. शारीरिक स्वास्थ्य: यहाँ शारीरिक स्वास्थ्य का मतलब है, जिसमें सही आहार, विहार, और नियमित व्यायाम शामिल होते हैं। रोजगार करने और शारीरिक श्रम करने के लिए शारीरिक स्वास्थ्य बनाए रखना महत्वपूर्ण है।
  2. मानसिक स्वास्थ्य: यह मानसिक स्वास्थ्य के बारे में इंगित करता है, जैसे कि तनाव और चिंता, मानसिक दुर्बलता, और मस्तिष्क के विकारों से ग्रसित न हो । व्यक्ति मानसिक रूप से पूर्ण स्वस्थ हो ।
  3. सामाजिक स्वास्थ्य: समाज में रहते हुए पूर्ण सामाजिक सौहार्द के साथ रहा जाये और घर, परिवार एवं समाज के साथ समरसता की भावना के साथ रहा जाये ।

स्वस्थ होने का मतलब केवल बिमारियों से मुक्त होना नहीं होता, बल्कि यह शारीरिक, मानसिक, और सामाजिक स्वास्थ्य के संतुलन को दर्शाता है जो एक व्यक्ति को सकारात्मक और सुखमय जीवन जीने में मदद करता है।

स्वस्थ रहने के 10 सरल उपाय

आयुर्वेद का तात्पर्य हमारे शारीरिक, मानसिक और आत्मिक स्वास्थ्य को संतुलित रखना है। यह विज्ञान हमें अपने जीवन को संतुलित और स्वस्थ बनाने के लिए कई प्राकृतिक उपाय प्रदान करता है । इसमें बताये गए सरल घरेलु उपायों को अपनाकर आप आसानी से स्वस्थ रह सकते हैं । यहाँ हमने उन 10 सरल घरेलु उपायों के बारे में बताया है जिनको अपनाकर आप आसानी से रोगों से लड़ने की शक्ति प्राप्त कर सकते हैं एवं आजीवन स्वस्थ रह सकते हैं ।

1. दैनिक व्यायाम करें

निक व्यायाम हमारी बढती उम्र के लिए लाभदायक है । यह हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है। व्यायाम करने से हमारे शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, हमारी मानसिक स्थिति में सुधार होता है, और हमें जीवन में ऊर्जा और आत्मविश्वास मिलता है। नियमित व्यायाम या योग आदि को अपनाकर आप आसानी से स्वस्थ रह सकते हैं ।

2. सही आहार का सेवन

सही आहार का सेवन करके, आप अपने स्वास्थ्य को बेहतर बना सकते हैं और अनेक बीमारियों से बचाव कर सकते हैं। सही आहार का सेवन स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है। यहाँ कुछ महत्वपूर्ण सुझाव दिए गए हैं जो सही आहार का सेवन करने में मदद कर सकते हैं:

  1. फल और सब्जियाँ: हर दिन कम से कम 5 सर्विंग फल और सब्जियाँ खाएं। ये आपको विटामिन, मिनरल्स, फाइबर, और अन्य महत्वपूर्ण पोषण प्रदान करते हैं।
  2. साबुत अनाज: अनाज जैसे कि चावल, गेहूं, और दालें आपके शारीरिक ऊर्जा के लिए जरूरी होते हैं।
  3. प्रोटीन: अंडे, दूध, पनीर, मटन, और दालें प्रोटीन के स्रोत हो सकते हैं। प्रोटीन आपके शरीर के मांसपेशियों, बॉन्स, और हेयर के लिए महत्वपूर्ण है।
  4. अधिक तेलों से बचें: तेल और चिकित्सा विशेषज्ञों की सलाह के हिसाब से उचित मात्रा में तेलों का सेवन करें।
  5. अदिक शर्करा से बचें: शर्करा की अधिक मात्रा आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकती है। इसके बजाय आप खासकर नैचुरल शर्करा जैसे कि फलों में पाए जाने वाले शर्करा का सेवन करें।

3. प्रयाप्त नींद का खयाल रखें

प्रयाप्त नींद का ख्याल रखना स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। यह आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए अत्यंत आवश्यक है। हर रात उचित समय पर सोने और उठने का प्रयास करें। सोने से पहले मसाज, योग, ध्यान जैसे तकनीकों का उपयोग करके मानसिक शांति पाएं।

आपके सोने के कक्ष में ध्वनि और प्रकाश को नियंत्रित करने के लिए कर्टन, आदि लगावें । सोने से पहले अपने फोन और कंप्यूटर का उपयोग कम करें, क्योंकि इनकी ब्लू लाइट सोने की प्रक्रिया को प्रभावित कर सकती है। इस तरह से अगर आप प्रयाप्त नींद लेंगे तो निश्चित ही स्वस्थ रहेंगे ।

4. स्ट्रेस का प्रबंधन करें अर्थात तनाव न लें

स्ट्रेस का प्रबंधन और स्वास्थ्य का आपसी संबंध गहरे तरीके से जुड़े हुए हैं। अत्यधिक स्ट्रेस के बाद स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डाल सकता है, लेकिन अच्छे स्ट्रेस प्रबंधन के तरीकों का अनुसरण करके आप इसका सामना कर सकते हैं और स्वास्थ्य को सुरक्षित रख सकते हैं। आप योग और मेडिटेशन आपके मानसिक स्वास्थ्य को सुधारने में मदद कर सकते हैं। इन तकनीकों का अभ्यास करने से मानसिक तनाव कम होता है और मानसिक शांति मिलती है। नियमित व्यायाम करना शारीरिक स्वास्थ्य को सुधारता है और स्ट्रेस को कम करने में मदद करता है।

5. नशें से बचें

शराब, धूम्रपान, तम्बाकू या अन्य कोई भी नशा जो शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित करता हो उससे बचें । क्योंकि स्वस्थ रहने के लिए यह आवश्यक है कि आप शारीरिक और मानसिक रूप से पूर्ण स्वास्थ्य है । अगर आप नशा करते हैं तो यह आपके सोचने और समझने की शक्ति का ह्रास कर देता है । इसलिए स्वस्थ रहने के लिए आपको नशे का त्याग करना होगा ।

6. नियमित चेकअप करवाएं

अगर आप बिलकुल ठीक भी है तो भी नियमित कुछ समय अन्तराल से आपको अपने शरीर का चेक अप अवश्य करवाना चाहिए । क्योंकि इससे रोगों के होने से पूर्व आपको पता चल जाता है एवं शरीर में हो रहे परिवर्तन को भी आसानी से देखा जा सकता है ।

7. प्रयाप्त पानी पियें

शरीर को हाइड्रेट रखना भी पूर्ण स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है । इसलिए आपको प्रयाप्त मात्रा में पानी पीना चाहिए । क्योंकि पानी पीने से शरीर हाइड्रेट रहता है और शरीर में स्थित विषाक्त पदार्थ शरीर से बाहर निकलते रहते हैं । पर्याप्त पानी आपकी किडनी को सुचारू रखता है और रोगों से बचाने में आहार भूमिका निभाता है ।

8. मैडिटेशन करें

शारीरिक रूप से स्वस्थ रहना और मानसिक रूप से स्वस्थ रहना दोनों के लिए ही ध्यान करना अत्यंत फायदेमंद है । अगर आप नियमित रूप से 15 मिनट भी मेडिटेट करते हैं तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए एक उत्तम स्वास्थ्य दायक टिप साबित हो सकता है । इसे आप नियमित करें या सप्ताह में 3 से 4 दिन कम से कम करें । यह आपके मस्तिष्क शांत रखने और मानसिक विकारों को दूर करने के लिए लाभदायक है ।

9. गोल निर्धारित करें

स्वस्थ रहने के लिए जीवन में गोल होना भी आवश्यक है । आप हर नए वर्ष के लिए एक स्वास्थ्य बढ़ाने वाला ऐम निर्धारित करें । जैसे अगर आपका वजन अधिक है तो इसे कुछ अन्तराल के लिए गोल निर्धारित करके कम करने का प्रयास करें और अगर वजन कम है और आपको वजन बढ़ाना है तो इसे एक गोल के रूप में लेकर वजन बढ़ाने के प्रयास करें ।

10. फलाहार करें

शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए महीने में एक या दो बार पूर्ण फलाहार को अपनाएं । यह आसान घरेलु उपाय आपके शरीर को डेटोक्स रखने का कार्य करता है और इसे करने से शरीर में स्थित बिगड़े हुए दोष संतुलित होते हैं ।

Written by

Dr Ramhari Meena

Founder & CEO - Shri Dayal Natural Spine Care. Chairmen - Divya Dayal Foundation (Trust) Founder & CEO - DrFindu Wellness Center

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *