कोरोना की तीसरी लहर के लक्षण कैसे होंगे इससे बचने के उपाय

कोरोना की तीसरी लहर क्या है (covid third wave in hindi)

हाल ही में जिस प्रकार कोरोना की पहली और दूसरी लहर ने जिस प्रकार पूरी दुनिया में बहुत ही भयंकर तबाही मचाई थी ऐसे में विश्व स्वास्थ्य संघटन (WHO) द्वारा ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है की भारत में भी कोरोना की तीसरी लहर काफी भयंकर होने वाली है | विश्व में काफी देशो में कोरोना की चौथी पांचवी लहर तक भी आ चुकी है ऐसे में हमे चाहिए की समय रहते कोरोना की तीसरी लहर (covid third wave in hindi) से बचने के उपायों को अभी से अपना लेना चाहिए इस हेतु हमे अपनी इम्युनिटी को बेहतर बनाने के अलावा अन्य कोई विकल्प नही है | आगे इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कैसे कोरोना की तीसरी लहर से बचा जा सकता है |

कोरोना की तीसरी लहर कब आएगी

विश्व स्वास्थ्य संघटन (WHO) द्वारा अगस्त के अंतिम सप्ताह में कोरोना की तीसरी लहर भारत में आने का अनुमान बताया जा रहा है कोरोना की दो लहर हम देख ही चुके है कितनी खतरनाक रही है ऐसे में आगामी तीसरी लहर के लिए हमे तैयार रहना चाहिए साथ ही इससे बचाव के उपाय अपनाते रहना ही इससे बचाव करने में हमारी सहायता करेगा |

कोरोना की तीसरी लहर कैसी होगी

अनेको संगठनों के द्वारा बताया जा रहा है की कोरोना की तीसरी लहर (covid third wave) बच्चो को अधिक प्रभावित कर सकती है | ऐसे में हमे और अधिक सावधान रहने के जरुरत है | क्योकि बच्चो में यदि यह लहर अधिक प्रभावी रही तो नुकसान अधिक होने किस सम्भावना है क्योकि शुरुवाती लक्षणों को बच्चे बताने में असमर्थ रहते है और माता पिता पहचानने में ऐसे में यह लहर अधिक नुकसानदायक हो सकती है | बच्चो की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए स्वर्ण प्राशन संस्कार करवाना अतिशीघ्र शुरू करदे |

कोविड की तीसरी लहर के लक्षण क्या होंगे

पिछली दोनों लहरों के लक्षणों को देखते हुए यह अनुमान लगाया जा रहा है | की कोरोना को तीसरी लहर (covid third wave in hindi) में भी लंग्स ही अधिक प्रभावित होने की सम्भावना है | साथ ही साथ अन्य लक्षणों में तेज बुखार, रक्तचाप का असामान्य, शुगर का स्तर बहुत अधिक बढना आदि लक्षण हो सकते है | जबकि वास्तविकता का पता तो लहर आने के बाद ही पता चल पायेगा |

तीसरी लहर से बचने के उपाय

सबसे पहले हमे अपनी इम्युनिटी को बेहतर बनाना होगा इस हेतु हमे निम्न उपायों को अपनाना होगा –

  • सबसे पहले हमे अपनी जाठराग्नि की रक्षा करना अत्यंत आवश्यक है |
  • अपने आहार – विहार को संतुलित रखे |
  • डिब्बाबंद खाद्य पदार्थो से परहेज करे |
  • नियमित योगाभ्यास प्राणायाम करे |
  • रात को सोने और सुबह जागने का सही समय का विशेष ध्यान रखे |
  • पानी का अधिक सेवन करे|
  • नजदीकी आयुर्वेद चिकित्सक के परामर्श से इम्युनिटी बूस्टर काढ़े का सेकन करे |
  • अश्वगंधा पाउडर रात को सोते समय 5 ग्राम की मात्रा में नियमित सेवन करे जिससे मानसिक तनाव के साथ नर्वस सिस्टम बेहतर होगा |
  • छोटे बच्चो को स्वर्ण प्राशन संस्कार करवाए |

कोरोना की तीसरी लहर से सम्बंधित पूछे जाने वाले कुछ प्रश्न –

कोरोना की तीसरी लहर कब आएगी

कोरोना की तीसरी लहर अगस्त के अंतिम सप्ताह में आने की सम्भावना बताई जा रही है साथ ही सितम्बर के दुसरे सप्ताह में इसके पीक पर होने की सम्भावना बताई जा रही है |

कोरोना की तीसरी लहर कैसी होगी

विश्व स्वास्थ्य संघटन (WHO) के द्वारा कोरोना की तीसरी लहर भारत में अधिक हानिकारक होने की सम्भावना बताई जा रही है |

कोरोना की तीसरी लहर के लक्षण क्या होंगे

तीसरी लहर के लक्षण अधिक खतरनाक होने की सम्भावना बताई जा रही है ऐसे में संमय रहते अपनी इम्युनिटी को बेहतर बनाने पर विशेष ध्यान देने की जरुरत है |

कोरोना की तीसरी लहर क्या है

हाल ही में कोरोना की दो लहर आयी थी जिनका परिणाम अत्यंत भयंकर रहे ऐसे में कोरोना की अगली लहर आने की सम्भावना बताई जा रही है | जो की अधिक खतरनाक बताई जा रही है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *