महास्तंभन वटी के फायदे सेवन विधि Mahastambhan Vati in hindi

महास्तम्भन वटी के फायदे

महास्तंभन वटी (mahastambhan vati in hindi )

यह शास्रोक्त आयुर्वेद औषधी है जिसका निर्माण स्तम्भन दोष को दूर करने के लिए किया जाता है | महास्तंभन वटी को स्तम्भन शक्ति बढ़ाने वाली औषधि के रूप में जाना जाता है | यह आयुर्वेद की महाऔषधि के रूप में भी वैध लोगो में प्रचलित है |

वर्तमान समय में पुरुषो में होने वाली यौन कमजोरी को दूर करके शीघ्रपतन, नपुंसकता तथा सम्भोग में के समय की अल्पता जैसी परेशानियों के निवारण हेतु महास्तंभन वटी अत्यंत लाभदायक आयुर्वेद औषधि है | कामेच्छा प्रेमी लोग भी महास्तंभन वटी का सेवन करके अधिक समय तक सहवास का आनंद ले सकते है |

महास्तंभन वटी के घटक ingerident of mahastambhan vati in hindi

  • इरानी अकरकरा 5 ग्राम
  • खुरासानी अजवायन 5 ग्राम
  • छोटी इलायची 5 ग्राम
  • लौंग 5 ग्राम
  • दालचीनी 5 ग्राम
  • धतुरा शुद्ध 2.5 ग्राम
  • सिद्ध मकरध्वज 5 ग्राम
  • केशर 5 ग्राम
  • शोधित भांग 5 ग्राम
  • भावनार्थ भांग स्वरस

महास्तंभन वटी बनाने की विधि

सबसे पहले महास्तंभन वटी बनाने के लिए धतुरा के बीजो को गोमूत्र या त्रिफला क्वाथ में 24 घंटे के लिए डालकर छोड़ दे तत्पश्चात धुप में सूखने के लिए रखदे | अच्छे से सुख जाने के बाद गाय के घी में अच्छे से भुन ले

इसके बाद सभी काष्ठ औषधियों को खरल में बारीक़ पीस लेवे | अच्छी तरह पिसने के बाद केशर, सिद्ध मकरध्वज और भांग को खरल में डालकर महीन चूर्ण बनाले | इस तैयार पाउडर में भांग स्वरस डालकर खरल करले खरल से मतलब है की पाउडर को गिला करने के बाद खरल में घोट घोट के सुखा ले इसे एक भावना कहा गया है | जब यह टेबलेट बनाने लायक हो जाये तब 125 मिग्रा की टेबलेट बनाकर किसी कांच के बर्तन में रखके सुखा लेवे | सूखने के बाद किसी कांच की शीशी में भरकर रख ले |

यहाँ पढ़े – वाजीकरण शक्ति बढ़ाने

पेनिस में तनाव की दवा आयुर्वेद महास्तम्भन वटी के फायदे

महास्तंभन वटी के फायदे benefits of mahastambhan vati in hindi

  • शीघ्रपतन की समस्या में महास्तंभन वटी अत्यंत लाभदायक सिद्ध होती है |
  • स्वप्न दोष की समस्या को ठीक करने में कारगर दवा है | महास्तंभन वटी का सेवन करने के बाद कामी पुरुष लम्बे समय तक सम्भोग का आनंद ले पाता है | अर्थात जल्दी स्खलित नही होता है |
  • वीर्य को गाढ़ा करने में अत्यंत उपयोगी औषधि है महास्तंभन वटी |
  • यह नर्वस सिस्टम को बेहतर बनाती है जिससे नींद अच्छी आती है |
  • यह पाचक का काम भी करती है जिससे भूख बढती है |
  • जिन पुरुषो में वाजीकरण शक्ति का हास हो चुका होता है उनकी वाजीकरण शक्ति को पुनर्जीवित करने में लाभदायक वटी है |

स्तम्भन वटी के नुकसान mahastambhan vati side effects in hindi

किसी भी आयुर्वेद औषधि के सेवन से पहले वैध से परामर्श अत्यंत आवश्यक है | बिना वैध की सलाह के सेवन करने पर किसी भी दवा का side इफ़ेक्ट हो सकता है जबकि वैध से सलाह के बाद सेवन करने से किसी प्रकार का side effects नही होता है | इसका सेवन लम्बे समय के लिए नही करना चाहिए क्योंकि इसमे भांग एक मादक पदार्थ है जिसका लम्बे समय तक सेवन नही करना चाहिए |

विशेष – महास्तंभन वटी का निर्माण किसी भी आयुर्वेद कम्पनी द्वारा नही किया जा रहा है और ना ही इसे घर पर बनाने का प्रयास करे | यह आर्टिकल केवन ज्ञान वर्धन के लिए एवं आयुर्वेद औषधियों का जन जन तक पहुँचने के लिए किया गया है | वैसे तो यह शास्त्रोक्त दवा है जो जिसका निर्माण प्राचीन काल में राज महाराजाओ व कामी पुरुषो के लिए किया जाता था |

One thought on “महास्तंभन वटी के फायदे सेवन विधि Mahastambhan Vati in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.