सफेद पानी की टेबलेट है – हिमालय की लुकोल के फायदे सेवन विधि और मात्रा himalaya Lukol tablet benefits, side effects and uses in hindi

हिमालया की लुकोल टेबलेट के फायदे

लुकोल टेबलेट के बारे में – परिचय

वर्तमान समय में महिलाओ को लिकोरिया जिसे सफेद पानी, वाइट डिस्चार्ज, श्वेत प्रदर आदि नामों से जाना जाता है | क्योकि सफेद पानी जैसी बड़ी समस्या से छुटकारा दिलाने में सफेद पानी की आयुर्वेदिक दवा है हिमालया की लुकोल टेबलेट के फायदे |

लुकोल के फायदे
लुकोल के फायदे

आगे हम इसी आर्टिकल में बात करेंगे हिमालय की लुकोल टेबलेट के फायदे नुकसान सेवन विधि ओर् मात्रा के बारे में –

अगर आप सफ़ेद पानी की समस्या से पीड़ित है तो उपयोग करें आयुर्वेद का अनुभूत योग “ल्यूको ड्रिंक किट” | यह उत्पाद सफ़ेद पानी की समस्या में तीव्रता से असर दिखाता है | नियमित 15 दिन के सेवन से सफ़ेद पानी की समस्या से छुटकारा मिलता है |

ल्युकोड्रिंक किट के फायदे
ल्युकोड्रिंक किट के फायदे https://shridayalspinecare.com/lueko-drink-kit/

हिमालया लुकोल टेबलेट के घटक द्रव्य Ingredients of Himalya Lukol Tablet in hindi

  • धातकी 80 mg
  • कोकिलाक्षा 80
  • शतावरी कंद 80
  • सर्पगंधा 40mg
  • पुगा 40 mg
  • पुनर्नवा 20mg
  • वसाका 20mg
  • जातिफल 32mg
  • एला 22mg
  • नागकेसर 22mg
  • जीरका 20mg
  • बिल्व 10 mg
  • चंदन 20mg
  • शिलाजित 18mg
  • प्रवाल भस्म 14mg
  • त्रिफला 10mg
  • लोह भस्म 10 mg
  • हरीतकी 10mg
  • मरिचा 10mg
  • गुग्गुलू 10mg
  • त्रिवंग भस्म 10mg
  • पलास 8mg
  • उशीर 11mg
  • सुन्ठी 3 mg

लिकोरिया में हिमालया लुकोल के फायदे Himalaya Lukol tablet banefits in hindi

ल्यूकोरिया में लुकोल टेबलेट के फायदे sfed pani m lukol tablet ke fayde

जिन महिलाओ को लिकोरिया की समस्या रहती है उन्हें हिमालय की लुकोल टेबलेट का सेवन आयुर्वेद चिकित्सक की देखरेख में करने से लाभ मिलता है | लेकिन यह दवा आप मेडिकल से खरीद के भी उपयोग कर सकती हो, किन्तु बेहतर परिणाम के लिए चिकित्सक की देखरेख में ही ल्यूकोरिया में हिमालया की लुकोल टेबलेट का सेवन करना अधिक लाभदायक रहता है | यहा पढ़े सफेद पानी की दवा ल्युकोड्रिंक किट

पीरियड्स के समय होने वाले पीठ दर्द में फायदे

जिन माहिलाओ को पीरियड्स के समय पीठ दर्द और पैरो में दर्द की समस्या रहती है वो भी लुकोल का सेवन करके समस्या से छुटकारा पा सकती है |

संक्रमण रोकने में लुकोल टेबलेट के फायदे

इस औषधि के सेवन से लिकोरिया/ पीरियड्स के समय होने वाले बैक्टीरिया के संक्रमण से माहिलाओ की रक्षा करने में लाभदायक दवा है | जो की श्रोणि में होने वाली सुजन और दर्द को कम करने में महत्वपूर्ण आयुर्वेद औषधि है |

हिमालय की लुकोल के नुकसान side effects of lukol tablet in hindi

इस औषधि का सेवन यदि आयुर्वेद चिकित्सक की देखरेख में किया जाये तो किसी भी प्रकार का दुष्प्रभाव होने की सम्भावना नही रहती है किन्तु खुद से सेवन करने से कभी कभी मितली आना जैसी समस्या हो सकती है |

सेवन विधि और मात्रा how to use Himalaya lukol tablet in hindi

इस टेबलेट का सेवन 1-2 टेबलेट पानी के साथ या चिकित्सकानुसार करे | हिमालया की लुकोल टेबलेट का सेवन 1 महीने तक कर सकती हो |

लुकोल टेबलेट के प्राइस lukol tablet price in hindi

मात्रा – 60 टेबलेट

मूल्य (price)- 140/-

हिमालया की लुकोल सिरप

मात्रा – 200 मिली

मूल्य price – 130/-

यदि लेख पसंद आया हो तो कृपया शेयर करना न भूले |

धन्यवाद !

10 thoughts on “सफेद पानी की टेबलेट है – हिमालय की लुकोल के फायदे सेवन विधि और मात्रा himalaya Lukol tablet benefits, side effects and uses in hindi

    • admin says:

      जी आप वाइट डिस्चार्ज में लूकोल टैबलेट का उपयोग कर सकती हो बेहतर रिजल्ट के लिए ल्यूको ड्रींक कैप्सूल का उपयोग कर सकते हो

    • admin says:

      सफेद पानी से स्थायी छुटकारा पाने के लिए ल्यूको ड्रिंक किट का सेवन लगातार 45 दिनों तक करे | यदि शारीरिक कमजोरी हो तो साथ में प्रोटीन पाउडर का सेवन करे | धन्यवाद

    • Jasveer kaur says:

      Hey, please 🙏 help 🙏 please 🙏 😢
      Mere mummy hai 50 year, ohna nu likoria problem ae, lukol tablets 2 months ho gye le rehe ne, problem thore reh gye , but gye nhi, please help me

  1. Jasveer kaur says:

    Hey, please 🙏 help 🙏 please 🙏 😢
    Mere mummy hai 50 year, ohna nu likoria problem ae, lukol tablets 2 months ho gye le rehe ne, problem thore reh gye , but gye nhi, please help me

        • admin says:

          आपकी वाइफ को ल्यूको ड्रिंक किट का सेवन करवाए और आप जॉइंट स्टैमिना कैप्सूल का सेवन करे बेहतर लाभ मिलेगा |
          धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *